Search in hindi and english

लोड हो रहा है. . .
For lose weight click here / मोटापा घटाने के लिए अभी क्लिक करें

गर्भावस्था में स्तनों की देखभाल

गर्भावस्था में स्तनों पर ध्यान देना अति आवश्यक होता है। क्योंकि जन्म लेने वाले बच्चे को इन्ही से दूध पीना होता है। स्तनों के निपल में अधिक ध्यान देना चाहिए। क्योंकि यदि निपल स्तन में अंदर की और धंसे हो तो काफी परेशानी हो सकती है। शिशुओं को दूध पिलाने के लिए निपल उभरे हुए होने चाहिए। यदि गर्भावस्था के 24 सप्ताह बाद भी निपल उभर न पाएं तो डॉक्टर से मिलें। निपल को उभारने के लिए अधिकतर डॉक्टर क्रीम देते हैं। इस क्रीम को प्रतिदिन लगाकार निपल को बाहर की खिंचाव देते रहना चाहिए।

निपल को उभारने के लिए एक दूसरा तरिका भी इस्तेमाल किया जाता है। वह है प्लास्टिक की शैल पहनना। इसे बूलीच ब्रैस्ट शैल कहते हैं। इसे ब्रेजियर के नीचे की और पहनते हैं। शैल के बीच का छेद स्तन के निपल के उपर रखकर पहनना चाहिए। शुरू में इसे प्रतिदिन 1 - 2 घंटों तक पहनना चाहिए फिर पूरे दिन  4 से 6 हफ्तों तक पहनना चाहिए। इसको पहनने से निपल बाहर की और खिंच जाते हैं।

गर्भावस्था के पांचवे महीने में निपलों में से थोड़ा थोड़ा दूध का आना शुरू हो जाता है। यह दूध निपल के बाहरी भाग में जम जाता है। इसलिए निपल को पानी से साफ़ करके धो लेना चाहिए। 

1 टिप्पणी:

Write your comment


Apply for a loan online just click here Get instant approval. Only for Indian people

लोन के लिए ऑनलाइन apply करें सिर्फ यहाँ क्लिक करें| तुरंत approval पाएं